जब शहीद की डेड बॉडी पर पत्नी ने तोड़ी चूड़ियां,देखने वालों का कलेजा फटा रवा हुए आसू

0
266

guru sewakपानीपत:शहीद गुरसेवक सिंह की पत्नी जसप्रीत कौर ने 18 नवंबर को बड़े चाव से जिसके नाम की चूड़ियाँ पहनी, महज़ 47 दिनों में वही चूड़ियाँ उसकी डेड बॉडी पर तोड़ता देख लोगों का कलेजा मुंह को आ गया। पठानकोट में आतंकियों का सामना करते शहीद हुए गुरसेवक अपनी नई नवेली पत्नी से वादा करके गए थे कि उसके जन्मदिन 5 फरवरी को वो दस दिन की छुट्टी लेकर आएंगे। वो आये तो ज़रूर.. लेकिन पैरों पर चलकर नहीं, बल्कि तिरंगे में लिपट कर….
मरने से पहले बोला था, अभी फोन रख सो जा, कल बात करूँगा
जसप्रीत कौर ने बताया कि 5 फरवरी को उसका जन्मदिन था और इसे घर पर मनाने के लिए उसके पति गुरसेवक सिंह ने 13 जनवरी से 6 फरवरी तक छुट्‌टी की अर्जी लगाई थी। यूँ तो उनसे रोज़ ही बात हो जाती थी, लेकिन शुक्रवार को दिन में वो फोन नहीं कर पाई। रात को जब उसने फोन किया तो उन्होंने यह कहकर फोन काट दिया, ‘’अभी रख.. बाद में फोन करूंगा, और अगर फोन नहीं आया तो सो जाना। इसके बाद फोन तो नहीं आया, लेकिन मुझे उस रात सोने के लिए कहने वाला हमेशा-हमेशा के लिए सो गया।” शनिवार को भी पूरे परिवार को गुरसेवक सिंह की शहादत के बारे में पता नहीं था। एक सप्ताह पहले ही मायके छोड़ी गई पत्नी जसप्रीत कौर ने अपना फेसबुक अकाउंट खोला तो गुरसेवक के एक दोस्त की पोस्ट से पता चला कि वह शहीद हो गए।
अंतिम संस्कार की रस्मों में मशीन की तरह लेती रही हिस्सा
शादी के दो महीने के अंदर पति की मौत के बाद से जसप्रीत की हालात विक्षिप्तों जैसी हो गई है। वो दरवाज़े पर आई डेड बॉडी को देखकर बेहोश हो गई थी। अंतिम संस्कार को लेकर परिवार के लोग जो निर्देश देते, उन हर निर्देशों को वो पूरा कर रही थी, लेकिन बीच-बीच में दहाड़ें मारकर रोने भी लगती थी। वहां मौजूद लोगों से उसका रोना  देखा भी नहीं जा रहा था।