यूपी में लगातार बढ़ रही संक्रमितों की संख्या, 82 में 32 नोएडा के पॉजिटिव

0
314

लखनऊ:- केंद्र के साथ उत्तर प्रदेश सरकार के तमाम प्रयासों के बाद भी सूबे में कोरोना वायरस संक्रमितों की संख्या में इजाफा होता जा रहा है। रविवार को कोरोना वायरस से संक्रमित 17 नए लोग पाए गए। इनमें मेरठ के आठ, नोएडा के पांच, गाजियाबाद के दो और आगरा व बरेली के एक-एक पीड़ित व्यक्ति शामिल हैं। इस तरह यूपी में कोरोना से संक्रमित लोगों की संख्या 82 पहुंच गई है। सर्वाधिक 32 पॉजिटिव केस नोएडा के हैं।

नोएडा में इतनी बड़ी संख्या में संक्रमति लोग सामने आने के बाद मुख्यमंत्री योगी आदित्यनाथ ने प्रमुख सचिव चिकित्सा शिक्षा रजनीश दुबे को वहां हेलीकॉप्टर से भेजकर हालात सुधारने के निर्देश दिए हैं। वहां स्वास्थ्य विभाग की टीम ने भी पूरी ताकत झोंक दी है। सोमवार को खुद सीएम योगी भी नोएडा जाएंगे।

नोएडा के 32 पॉजिटिव लोगों के अलावा अब तक मेरठ में 13, आगरा में 11, लखनऊ में आठ, गाजियाबाद में सात, पीलीभीत और वाराणसी में दो-दो और लखीमपुर खीरी, बागपत, मुरादाबाद, कानपुर, जौनपुर, शामली व बरेली में एक-एक संक्रमित मिले हैं। कोरोना वायरस उत्तर प्रदेश के 14 जिलों में पांव पसार चुका है। रविवार को 170 संदिग्ध लोगों को विभिन्न अस्पतालों में भर्ती कराया गया।

नोएडा में अभी तक जो 32 पॉजिटिव केस पाए गए हैं, उनमें से कई एक बड़ी कंपनी के अधिकारी व कर्मचारी हैं। कंपनी का एक अधिकारी बीते दिनों ब्रिटेन की यात्रा कर लौटा था और उसमें कोरोना वायरस पाया गया। इसके बाद दूसरे अधिकारी व कर्मचारी उसके संपर्क में होने के कारण संक्रमित होते चले गए। दूसरी ओर कोरोना वायरस से संक्रमित अब तक कुल 14 मरीजों को स्वस्थ घोषित कर अस्पताल से छुट्टी दी जा चुकी है। जो लोग स्वस्थ घोषित हुए हैं उनमें आगरा के सात, नोएडा के चार, गाजियाबाद के दो व लखनऊ का एक व्यक्ति शामिल है।

उत्तर प्रदेश में अभी तक कोरोना वायरस के 2430 संदिग्ध लोगों की जांच करवाई जा चुकी है। इसमें से 2305 संदिग्ध लोगों की जांच रिपोर्ट नेगेटिव आई है यानी इनमें कोरोना वायरस नहीं पाया गया । वहीं 53 लोगों की जांच रिपोर्ट अभी आना बाकी है। उत्तर प्रदेश में कोरोना संक्रमित मरीजों की संख्या पिछले चार दिनों के दौरान तेजी से बढ़ी है।

आरआरटी ने एक दिन में 9106 संदिग्ध किए चिह्नित:-स्वास्थ्य विभाग की रैपिड रिस्पांस टीम (आरआरटी ) व डब्ल्यूएचओ की टीम ने रविवार को 9106 ऐसे लोगों को चिह्नित किया जो चीन सहित कोरोना वायरस प्रभावित देशों की यात्रा कर लौटे हैं। इन्हें कम से कम 28 दिन के होम क्वारंटाइन में रखने को कहा गया है। अभी तक करीब 52082 ऐसे लोग चिह्नित किए जा चुके हैं जो चीन या कोरोना प्रभावित दूसरे देशों की यात्रा कर वापस लौटे हैं।

मेरठ में आठ और कोरोना संक्रमित मिले:-मेरठ में रविवार रात आई र‍िपोर्ट से दहशत फैल गई। मेडिकल कालेज में भर्ती आठ लोगों को कोरोना की पुष्टि हुई है। दो दिन पूर्व एक युवक की र‍िपोर्ट पाॅज‍िटिव आई थी। शनिवार को उसकी पत्‍नी और तीन सालों की र‍िपोर्ट पाजिटिव आई थी। यह युवक महाराष्‍ट्र से अपनी ससुराल में आया था। शन‍िवार को युवक ज‍िनसे म‍िला था उनके सैंपल भेजे गए थे। रविवार आई र‍िपोर्ट में आठ को कोरोना वायरस की पुष्टि हुई है। कुछ र‍िपोर्ट अभी आनी बाकी है। उधर, बुलंदशहर में भी आज एक युवक को कोरोना की पुष्टि हुई है। यह युवक नोएडा की एक कंपनी में काम करता था।

नोएडा में रविवार को संक्रमण के पांच मामले:-नोएडा में पांच में तीन सीज फायर कर्मी नोएडा में रविवार को कोरोना संक्रमण के पांच मामले सामने आए हैं। इनमें से तीन मरीज सीज फायर कंपनी के कर्मचारी है, जबकि एक कर्मचारी के दो रिश्तेदारों को उससे संक्रमण हुआ है। चार मामले सेक्टर-137 के पारस टीरिया सोसायटी के है और एक मामला दादरी के एक गांव का है। रविवार को जिनकी रिपोर्ट पॉजिटिव है, उनमें पारस टीरिया सोयासटी का एक युवक व महिला सीजफायर कंपनी के कर्मचारी है। दो मरीज पारस टीरिया निवासी युवक के संक्रमण में आकर बीमार हैं। विदेश से लौटने वालों की संख्या 1849 नोएडा में कोरोना के मरीजों की संख्या तेजी से बढ़ रही है। अधिकारी वायरस के फैलाव को रोकने का हरसंभव प्रयास कर रहे हैं, इसके बाद भी स्थिति गंभीर हो रही है। एक दिन में नौ संक्रमित सामने आने से जिले में लोग डरे हुए हैं। स्वास्थ्य विभाग लोगों से सावधान रहने की अपील कर रहा है।

बरेली में मिला पहला पॉजिटिव:-बरेली में भी कोरोना वायरस पॉजिटिव मिला है। इसकी पुष्टि देर रात लखनऊ से आई जांच रिपोर्ट के बाद हुई। जिसके बाद स्वास्थ्य विभाग पूरी तरह से सक्रिय हो गया हैं। कोरोना पॉजिटिव केस सुभाषनगर का हैं। जो नोएडा में अग्निशमन उपकरण बनाने वाली फैक्ट्री में काम करता हैं। यह युवक कुछ समय पहले ही घर लौटा था। जिसमें संक्रमण के लक्षण दिखने के बाद इसका सैंपल लेकर जांच के लिए भेजा गया था। जिसके बाद स्वास्थ्य विभाग उसे बिथरी चैनपुर आइसोलेशन वार्ड में शिफ्ट कर रहा है। अपर निदेशक स्वास्थ्य डॉ राकेश दुबे ने बताया कि संक्रमित के परिवार वालों को मेडिकल कॉलेज में क्वारेंटाइन किया गया हैंं।

वाराणसी में दो दिन में दूसरा पॉजिटिव:वाराणसी के पिंडरा के चितौरा गांव के युवक के बाद शनिवार को दूसरा कोरोना -पॉजिटिव शिवपुर में मिला है। वह पहले पं. दीनदयाल उपाध्याय राजकीय अस्पताल में जांच कराने आया था। उसके गले में खराश थी। सीएमएस डा. वीके शुक्ला ने लक्षणों के आधार पर उसे अस्पताल में ही बिल्कुल अलग क्वारंटाइन वार्ड में भर्ती कराया और जांच के लिए ब्लड सैंपल लेकर बीएचयू के चिकित्सा विज्ञान संस्थान स्थित माइक्रो बॉयोलॉजी विभाग में भेजा, जहां से रिपोर्ट आई तो वह कोरोना पॉजिटिव मिला। इसके बाद उसे भी आइसोलेशन वार्ड में भर्ती कर इलाज शुरू कर दिया गया है। जिलाधिकारी कौशल राज शर्मा ने कोरोना पॉजिटिव की पुष्टि करते हुए जानकारी दी कि उसके परिवार के अन्य सदस्यों की जांच कराने के लिए स्वास्थ्य टीम को निर्देशित किया गया है।

थाना क्षेत्र शिवपुर के छतरीपुर गांव निवासी 30 वर्षीय युवक जून 2019 में संयुक्त अरब अमीरात गया था, वहां कॉल सेंटर में नौकरी करता था। 20 मार्च को शारजाह से वाराणसी सीधी फ्लाइट से आया था। एयरपोर्ट से टैक्सी कर घर पहुंचा। पीडि़त युवक का दावा है कि घर में पूरी तरह क्वारंटाइन था। पत्नी को तीन दिन पहले प्राइवेट हॉस्पिटल में डिलीवरी हुई लेकिन वह न तो पत्नी से मिला और न ही नवजात को देखा। बिल्कुल अलग रहकर दिन बिताया। 28 मार्च को जांच रिपोर्ट आई तो वह पॉजिटिव पाया गया। इसके परिवार में पत्नी बच्चे के अलावा माता-पिता, भाई व भाभी हैं। इसके घर के लोगों को होम क्वारंटाइन किया गया है। 29 मार्च को परिवार के सदस्यों का सैंपल लेकर बीएचयू स्थित जांच लैब में भेजा जाएगा।

पहले पॉजिटिव पाए गए युवक के हाल में सुधार पिंडरा के चितौरा गांव निवासी पहला कोरोना पॉजिटिव युवक के स्वास्थ्य में सुधार हुआ है। हालांकि दूसरी जांच रिपोर्ट में भी वह पॉजिटिव मिला है। अब 72 घंटे बाद यानी सोमवार को फिर से सैंपल भेजा जाएगा। इसके अलावा नौ अन्य लोगों को भी संदिग्ध मानते हुए पं. दीनदयाल अस्पताल में भर्ती कर जांच के लिए सैंपल भेजा गया है। 30 वर्षीय युवक दुबई में रहकर काम करता था। 17 मार्च को वह दुबई से दिल्ली की फ्लाइट से आया। इसके बाद वह ट्रेन पकड़कर 18 मार्च को बनारस पहुंचा था। कैंट रेलवे स्टेेशन से टेंपो बुक करके वह अपने गांव गया था। उसे गले में खराश की शिकायत थी। प्रारंभिक लक्षण मिलने पर युवक जांच के लिए 19 मार्च को जिला अस्पताल पहुंचा। डाक्टरों ने लक्षणों के आधार पर उसका सैंपल लेकर जांच के लिए बीएचयू भेजा दिया। देर रात उसकी रिपोर्ट पॉजीटिव मिली। इसके बाद आइसोलेशन वार्ड में आब्जर्वेशन पर रखे गए मरीज के इलाज को लेकर जिला प्रशासन ने विशेष सतर्कता बरतने का निर्देश दिया है।

यूपी में बढ़ते गए संक्रमित

तारीख संक्रमित की संख्या

  • 7 मार्च 08
  • 12 मार्च 11
  • 14 मार्च 12
  • 15 मार्च 13
  • 17 मार्च 15
  • 19 मार्च 19
  • 20 मार्च 23
  • 21 मार्च 26
  • 22 मार्च 29
  • 23 मार्च 33
  • 24 मार्च 37
  • 25 मार्च 39
  • 26 मार्च 43
  • 27 मार्च 51
  • 28 मार्च 65
  • 29 मार्च 82

क्या आपको ये रिपोर्ट पसंद आई? हम एक गैर-लाभकारी संगठन हैं. हमारी पत्रकारिता को सरकार और कॉरपोरेट दबाव से मुक्त रखने के लिए आर्थिक मदद करें. आप हमें bhim app 930588808@ybl और paytm व phone pe कर सकते है इस न पर 9305888808

www.worldmediatimes.com पर जाकर सबक्राईब  करे हमसे जुड़ेने व विज्ञापन के लिए संपर्क करे अन्य न्यूज़ अपडेट हासिल करने के लिए आप हमें इस न 9452888808 पर कॉल और whatsapp भी कर सकते है आप  youtube  पर भी सबक्राईब करे   Facebook Page और  Twitter   Instagram  पर फॉलो करे! हर पल अपडेट रहने के लिए डाउनलोड करें अपने मोबाइल पर  World Media Times की Android App 

साभार:जागरण डाट काम