विडियो:3 साल बाद मोहर्रम की दसवीं को उठा बड़ा बुड्ढा ताजिया,कंधा देने अकीदतमंदों उमड़ा सैलाब,लहराया तिरंगा

0
90

3 साल बाद संगम नगरी प्रयागराज में पैगम्बरे इस्लाम मोहम्मद साहब के नवासे इमाम हुसैन समेत अन्य की शहादत की याद में मनाये जाने वाले मुहर्रम को मनाया गया।दशेरा मुहर्रम एक साथ पड़ने की वजह से पिछले तीन साल तक मुस्लिम समुदाय ने गंगा जमनी तहज़ीब की मिशाल पेश करते हुए न उठाने का फैसला लिया था वही इस बार मुहर्रम की दसवीं को मुस्लिम इलाके में विशेष चहल-पहल देखी गई।

मोहर्रम की दसवीं पर अकीदतमंदो का बड़ा ताज़िया बुड्ढा ताज़िया जुलूस में जन सैलाब उमड़ा । इस दौरान अकीदतमंदों ने दसवीं पर ताजिए में कंधा दिया वहीं फातिहा भी किया गया। कर्बला पर भी फातिहा किया गया। इस बीच बड़ा और बुड्डा ताजिया का जुलूस पूरी अकीदत के साथ अपने कदीमी रास्तो से निकला । ताजिये को छूने और बोसा लेने लाखो लोग सड़को पर मौजूद रहे।बड़ा और बुड्डा ताजिये के जुलूस के दौरान जहाँ युवाओं की टोलियां इमाम हुसैन के नारे लगते हुए चली।वही ताजिए पर लोगो ने फूल और गुलाबजल डाले । देर शाम तक ताजिया शहर के विभिन्न रास्तो से होता हुआ कर्बला में फूल दफन किया गया।जबकि चौकियां वापस ले आई गईं। जुलूसों का सुबह से ही करबला पहुंचने का सिलसिला देर शाम तक जारी रहा। नम आंखों से ताजिया के फूलों को दफनाने के बाद अकीदतमंद शहीदे आजम के सब्र और इंसानियत का सबक सीखकर लौटे। उन्होंने हुसैन के रास्ते पर चलते हुए जुल्मोसितम के खिलाफ हमेशा डटे रखने का भी संकल्प लिया।

रवायत के मुताबिक सबसे आगे बुड्ढा ताजिया और फिर बड़ा ताजिया का जुलूस निकाला गया। बुड्ढा ताजिया का जुलूस इमामबाड़े से उठकर नूरउल्लाह रोड होता हुआ खुल्दाबाद चौराहे पर पहुंचने के बाद करबला की ओर मुड़ा। लखनपुर का अलम और अटाला की मेहंदी इसके पीछे रही। वहीं जानसेनगंज स्थित इमामबाड़े से बड़ा ताजिया का जुलूस निकाला गया जो कोतवाली, नखासकोहना, खुल्दाबाद चौराहा होकर करबला पहुंचा। इसके पीछे रसूलपुर और बक्शी मोढ़ा के अलम ने शिरकत की। रसूलपुर का अलम सबसे आखिर में करबला पहुंचा। मोहम्मद अदीब अली खान की सरपरस्ती में पुराना मनोहर दास अकबरपुर बिकानो से मेहंदी उठाई गई।

बड़ा ताजिया को कांधा देने को रही होड़: मुतवल्ली रेहान खां, इमरान खान की सदारत में दोपहर 2.05 बजे बड़ा ताजिया उठा तो इसे कांधा देने के लिए अकीदतमंदों का हुजूम उमड़ा। हजारों मुस्लिम महिलाओं ने ताजिया की जियारत कर फूल चढ़ाए। गली-गली ढोल ताशे और नौहे गूंजते रहे। बड़ा ताजिया इमामबाड़े पर जियारत और बोसा लेने हजारों की तादात में जायरीन पहुंचे। यहां लंगर, शर्बत आदि बांटा गया। जुलूस में महापौर अभिलाषा गुप्ता, विधायक हर्षवर्धन बाजपेयी, एसपी सिटी ब्रजेश श्रीवास्तव, असरार नियाजी, चौधरी सईद अहमद,जावेद खान,जफर खान आदि शामिल थे। इससे पहले हुसैन के शैदाई पूरी रात अंगारों, जंजीरों का मातम कर करबला के शहीदों की याद ताजा करते रहे।

जुलूस ने दिया एंबुलेंस को रास्ता:बड़ा ताजिया का जुलूस जैसे ही ताजशाही के पास पहुंचा, शाहगंज की ओर से मरीज लिए एक एंबुलेंस आ पहुंची। संचालन कर रहे इलाहाबाद ऐतिहासिक मुहर्रम कमेटी के अध्यक्ष असरार नियाजी ने जुलूस में शामिल हुसैनियों से अपील की, जिस पर गौर करते हुए जुलूस ने एंबुलेंस को जाने के लिए रास्ता दे दिया।

कांधे-कांधे करबला पहुंचा मासूम असगर अली का झूला:दसवीं मुहर्रम पर मंगलवार को मासूम असगर अली का झूला कांधे-कांधे करबला पहुंचा। झूला बहादुरगंज चक रौजा से उठकर लोकनाथ, चर्च से गढ़ी सराय इमामबाड़े पर लाकर रखा गया। गुलाम रसूल की रहनुमाई में निकले जुलूस में हर कोई बोसा लेने को बेताब रहा। जुलूस में कमेटी के महासचिव गुलाम मोहम्मद, मो.रऊफ, इलियास नियाजी, सलीम पहलवान, गुलाम रब्बानी आदि शरीक थे।

अकीदत से निकला तुरबत का जुलूस:बख्शी बाजार स्थित इमामबाड़ा नजीर हुसैन से ऐतिहासिक तुरबत जुलूस सुबह निकाला गया। रानीमंडी से अंजुमन आबिदया, अब्बासिया व हैदरिया के मातमदार और नौहाख्वान भी जुलूस के हमराह हुए। तुरबत जुलूस दायरा शाह अजमल, रानी मंडी से होकर करबला पहुंचा जहां दुलदुल, तुरबत, ताबूत,अलम पर चढ़ाए गए फूलों को नम आंखों से दफनाया गया। करबला में ही मौलाना सैयद रजी हैदर की कयादत में आमाले आशूरा की रस्म अदा की गई।

अकीदतमंदों के घरों में फातेहा-नेयाज का सिलसिला शुरु हुआ। मलीदा, खिचड़ा, मिठाई व शरबत आदि का फातिहा किया गया।इस मौके पर प्रशासन ने सुरक्षा के चाक-चौबंद प्रबंध कर मुहर्रम सम्पन कराया

क्या आपको ये रिपोर्ट पसंद आई? हम एक गैर-लाभकारी संगठन हैं. हमारी पत्रकारिता को सरकार और कॉरपोरेट दबाव से मुक्त रखने के लिए आर्थिक मदद करें. आप हमें bhim app 930588808@ybl और paytm व phone pe कर सकते है इस न पर 9305888808

www.worldmediatimes.com पर जाकर सबक्राईब  करे हमसे जुड़ेने व विज्ञापन के लिए संपर्क करे अन्य न्यूज़ अपडेट हासिल करने के लिए आप हमें इस न 9452888808 पर कॉल और whatsapp भी कर सकते है आप  youtube  पर भी सबक्राईब करे   Facebook Page और  Twitter   Instagram  पर फॉलो करे! हर पल अपडेट रहने के लिए डाउनलोड करें अपने मोबाइल पर  World Media Times की Android App