विडियो:संगम नगरी में अपराधी बेख़ौफ़ अब सिविल लाइन्स मे आंखों में मिर्ची पाउडर डालकर 9 लाख की लूट

0
96

प्रयागराज/इलाहाबाद:-संगम नगरी में अपराधी बेख़ौफ़ अब सिविल लाइन्स मे आंखों में मिर्ची पाउडर डालकर 9 लाख की लूट कोतवाली में 10.30 लाख रुपये लूट का मामला अभी खुल नहीं सका था कि बेखौफ बदमाशों ने शुक्रवार को एक और वारदात को अंजाम दिया। सिविल लाइंस में दिनदहाड़े मीट एजेंसी कर्मचारी से 9.50 लाख रुपये लूट लिए। उसकी आंखों में मिर्च पाउडर झोंककर रुपयों भरा बैग लेकर निकल भागे। पुलिस देर रात तक जांच पड़ताल में जुटी रही।

जमीर मांडा के भारतगंज के रहने वाले हैं। उन्होंने बताया कि उनका लाइवस्टॉक  (पशुओं) का व्यापार है। अटाला निवासी शाहिद उनकी फर्म में करीब दो साल से काम करता है। फर्म का हिसाब-किताब भी वही देखता है। व्यापारी के मुताबिक, शुक्रवार शाम 4.20 मिनट पर शाहिद ने सिविल लाइंस स्थित इंडसइंड बैंक से फर्म के 9.50 लाख रुपये निकाले। इसके बाद वह अकेले ही बाइक से रुपये लेकर जाने लगा। अभी वह डीआरएम ऑफिस चौराहे के पास पहुंचा था कि तभी पीछे से बाइक सवार दो युवक आ धमके।

बकौल शाहिद, वह कुछ समझ पाता, इससे पहले ही एक युवक ने उसकी आंखों में मिर्च पाउडर झोंक दिया। आंखों में मिर्च पाउडर पड़ते ही उसकी आंखों के सामने अंधेरा छा गया और इस दौरान आरोपी युवक रुपयों से भरा बैग लेकर अपने बाइक सवार साथी संग भाग निकला। तेज जलन के चलते शाहिद चीखा तो लोगों की नजर उस पर पड़ी। वह भागकर पहुंचे तो वह जलन के चलते तड़प रहा था। लोगों ने उसकी आंख में पानी डाला लेकिन, कोई राहत नहीं मिली।

इसी दौरान किसी ने सूचना दी तो पुलिस मौके पर पहुंची। हालांकि जलन के चलते बदहवास शाहिद वहां से चला गया। बाद में घटना की जानकारी मिलने पर जमीर ने पुलिस को सूचना दी और इसके बाद वह खुद अपने कर्मचारी को लेकर मौके पर पहुंच गए। सिविल लाइंस में लूट की सूचना पर एसएसपी, एसपी सिटी समेत तमाम अफसर भी मौके पर पहुंचे और भुक्तभोगी से पूछताछ की। पुलिस देर रात जांच में जुटी रही लेकिन, बदमाशों का कोई सुराग नहीं मिल सका था। भुक्तभोगी ने देर शाम सिविल लाइंस थाने में पहुंचकर तहरीर दी। जिसके आधार पर अज्ञात में मुकदमा दर्ज किया गया। इंस्पेक्टर सिविल लाइंस राकेश चौरसिया का कहना है कि जांच की जा रही है।

वारदात के बाद पुलिस ने घटनास्थल से लेकर इंडसइंड बैंक के आसपास लगे सीसीटीवी कैमरों की फुटेज खंगालनी शुरू की। इस दौरान घटनास्थल पर लगे सीसीटीवी कैमरेे की फुटेज में बदमाश भुक्तभोगी मुंशी से बैग लूटकर भागता दिखा। फुटेज से पता चला कि बाइक सवार दो बदमाश बैंक से निकलते वक्त ही मुंशी के पीछे लग गए थे। सुभाष चौराहे के पास पहुंचने पर बदमाश आगे निकल आए और उसका इंतजार करने लगे। डीआरएम ऑफिस चौराहे के पास पहुंचते ही पीछे बैठा बदमाश बाइक से उतर गया। जबकि बाइक लेकर उसका साथी दूसरी लेन में खड़ा हो गया। जैसे ही मुंशी चौराहे पर पहुंचा, वहां खड़ा बदमाश उसकी आंखों में मिर्च पाउडर झोंककर बाइक के हैंडल में टंगा रुपयों भरा बैग लेकर भाग निकला।

हर घटना की तरह पुलिस इस मामले को भी काफी देर तक संदिग्ध ही बताती रही। भुक्तभोेगी व्यापारी के तहरीर देने के बावजूद सिविल लाइंस थाने के पुलिसकर्मी पीड़ित के बयान को ही शक की नजरों से देखते रहे। उनका कहना था कि वारदात के बाद बिना पुलिस को कुछ जानकारी दिए ही पीड़ित का घर चले जाने की बात समझ से परे है। उधर पीड़ित मुंशी का कहना था कि आंखों में तेज जलन के चलते वह कुछ बोल पाने की स्थिति में नहीं था। साथ ही वह काफी घबरा भी गया था, ऐसे में वह वहां से सीधे घर चला गया।

संगम नगरी में एक महीने में पांचवीं लूट की वारदात, सनसनी:-बेखौफ लुटरों ने जिले में आतंक मचा रखा है। लगातार वारदातें सक्रिय पुलिसिंग के दावों पर भी सवाल खड़े कर रही हैं। हालात यह है कि महज एक महीने में ही लूट की पांच सनसनीखेज घटनाएं सामने आ चुकी हैं। यह हाल तब है जब आचार संहिता लगने के बाद पुलिस हाई अलर्ट मोड

कुंभ मेले के आखिरी दौर में ही अपराधियों ने फिर से सनसनी फैलानी शुरू कर दी थी। 10 फरवरी को वसंत पंचमी स्नान पर्व के एक दिन बाद ही जार्जटाउन में 6.70 हजार की लूट की वारदात हुई। पंप पर पेट्रोल भराने के लिए रुके पेटी ठेकेदार रतिराम से दिनदहाड़े 6.70 हजार रुपये लूटकर बाइकसवार दो बदमाश निकल भागे। पूरी घटना सीसीटीवी कैमरे में कैद हो गई। बदमाशों की तस्वीर भी इसमें कैद थी इसके बावजूद आज तक उनका सुराग नहीं मिल सका है। इसके बाद छह मार्च को यमुनापार व गंगापार में लूट की दो सनसनीखेज वारदातें हुईं। नैनी में टेंट सिटी(इंद्रप्रस्थम) कर्मचारियों से दिनदहाड़े सात लाख रुपये लूट लिए गए।

कर्मचारी फिरोज एक महिला सहकर्मी के साथ एचडीएफसी बैंक से रुपये निकालकर जा रहा था तभी अरैल चौराहे पर बाइकसवार बदमाश रुपये लूटकर भाग निकले। अभी 24 घंटे भी नहीं बीते थे कि गंगापार में फाफामऊ स्थित गद्दोपुर पेट्रोल पंप पर राम में नकाबपोश आधा दर्जन बदमाशों ने असलहों के बल पर 46 हजार रुपये लूट लिए। नैनी में हुई लूट के मामले में एक बदमाश को गिरफ्तार करते हुए पुलिस ने खुलासे का दावा किया लेकिन वह महज 1.42 लाख रुपये ही बरामद कर सकी। उधर फाफामऊ में पेट्रोल पंप पर हुई लूट के मामले के खुलासे का दावा करते हुए मुठभेड़ में तीन बदमाशों को गिरफ्तार करने का दावा किया। हालांकि अब तक मामले के चार आरोपियों का सुराग पुलिस नहीं हासिल कर सकी है।
दो मामलों के खुलासे को अभी एक दिन भी नहीं बीता था कि 11 मार्च को कोतवाली में एफएमसीजी एजेंसी के कर्मचारियों से 10.30 लाख रुपये की लूट की वारदात को अंजाम देकर बदमाशों ने पुलिस के सामने एक और चुनौती पेश की। चार दिन बीतने के बाद भी पुलिस के पास अब तक बदमाशों का कोई क्लू नहीं है। पूछने पर हर बार यही कहा जाता है कि जल्द ही मामले का ख्ुालासा कर दिया जाएगा। शुक्रवार को भी कोतवाली इंस्पेक्टर बच्चे लाल ने कहा कि जांच पड़ताल की जा रही है।

उधर जिले में लगातार हो रही आपराधिक वारदातों से नाराज राज्यसभा सांसद रेवती रमण सिंह ने नगर कोतवाली पर एकदिवसीय धरना देने का फैसला किया है। इससे पहले उन्होंने एडीजी को पत्र भेजकर बिगड़ती कानून व्यवस्था पर ध्यान आकृष्ट कराया। पत्र में कहा गया है कि वर्तमान में अपराध का ग्राफ इस कदर बढ़ा है कि लोगों का जीना दुर्लभ हो गया है। लूट, हत्या, बमबाजी, फायरिंग की वारदात आए दिन हो रही हैं। इस पत्र की एक प्रति मंडलायुक्त को भी भेजी गई है।

www.worldmediatimes.com पर जाकर सबक्राईब  करे हमसे जुड़ेने व विज्ञापन के लिए संपर्क करे अन्य न्यूज़ अपडेट हासिल करने के लिए आप हमें इस न 9452888808 पर कॉल और whatsapp भी कर सकते है आप  youtube  पर भी सबक्राईब करे   Facebook Page और  Twitter   Instagram  पर फॉलो करे! हर पल अपडेट रहने के लिए डाउनलोड करें अपने मोबाइल पर  World Media Times की Android App