भारत के इस मुस्लिम उद्योगपति ने दान करे 53 हज़ार करोड़ रुपये,बने भारतीय इतिहास के सबसे बड़े दानी

0
137

दुनिया में आईटी क्षेत्र के सबसे बड़े दिग्गज समझे जाने वाले विप्रो के अध्यक्ष अजीम प्रेमजी ने विप्रो लिमिटेड के 34 फीसदी शेयर यानी 52,750 करोड़ रुपये बाजार मूल्य के शयर परोपकार कार्य के लिए दान में दे दिए हैं।

फाउंडेशन ने अपने बयान में कहा, ‘अजीम प्रेमजी ने अपनी निजी संपत्तियों का अधिक से अधिक त्याग कर और धर्माथ कार्य के लिए उसे दान देकर परोपकार के प्रति अपनी प्रतिबद्धता बढ़ाई है, जिससे अजीम प्रेमजी फाउंडेशन के परोपकार कार्यों को सहयोग मिलेगा।’ बयान के अनुसार, इस पहल से, प्रेमजी द्वारा परोपकार कार्य के लिए दान की गई कुल रकम 145,000 करोड़ रुपये (21 अरब डॉलर) हो गई है, जो कि विप्रो लिमिटेड के आर्थिक स्वामित्व का 67 प्रतिशत है।

 

बता दें कि प्रेमजी को फ्रांस का सर्वोच्च नागरिक सम्मान ‘शेवेलियर डी ला लीजन डी ऑनर’ भी दिया गया है। आईटी उद्योग विकसित करने, फ्रांस में आर्थिक दखल देने और अजीम प्रेमजी फाउंडेशन एवं विश्वविद्यालय के जरिये एक समाजसेवी के रूप में समाज में उनके योगदान को लेकर उन्हें यह सम्मान दिया गया है।

शामिल हैं।
गौरतलब है कि पाकिस्तान के अलग होने के बाद जिन्ना ने प्रेमजी के पिता हाशिम प्रेमजी को पाकिस्तान का वित्त मंत्री बनने का ऑफर दिया था लेकिन उन्होंने भारत में रहना पसंद किया। वह अपने समय में जानेमाने व्यापारी थे।

www.worldmediatimes.com पर जाकर सबक्राईब  करे हमसे जुड़ेने व विज्ञापन के लिए संपर्क करे अन्य न्यूज़ अपडेट हासिल करने के लिए आप हमें इस न 9452888808 पर कॉल और whatsapp भी कर सकते है आप  youtube  पर भी सबक्राईब करे   Facebook Page और  Twitter   Instagram  पर फॉलो करे! हर पल अपडेट रहने के लिए डाउनलोड करें अपने मोबाइल पर  World Media Times की Android App