नायडू से नाता टूटने के बाद PM का पहला आंध्र दौरा,जगह-जगह लगे ‘मोदी एक भूल’ के पोस्टर

0
75

प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी रविवार को आंध्र प्रदेश में रैली करेंगे. राज्य की सत्ताधारी तेलुगू देशम पार्टी (टीडीपी) और बीजेपी के बीच रिश्तों में आई दरार के बाद पीएम मोदी का यह पहला आंध्र दौरा है. भगवा दल जहां इस रैली को सफल बनाने के लिए पूरे जोरशोर से जुटा है, वहीं मुख्यमंत्री एन. चंद्रबाबू नायडू ने पार्टी कार्यकर्ताओं से पीएम मोदी के खिलाफ राज्य भर में प्रदर्शन का आह्वान किया है.
इस बीच राज्य में कई जगहों पर शनिवार शाम से ही मोदी विरोधी पोस्टर और होर्डिंग लगे दिखे, जिस पर ‘अब और मोदी नहीं’, ‘मोदी एक भूल’ ‘मोदी दोबारा कभी नहीं’ जैसे लिखे थे. हालांकि इस पोस्टर्स पर किसी पार्टी या व्यक्ति का नाम नहीं लिखा था, इस कारण अभी यह स्पष्ट नहीं हो पाया है कि इन्हें किसने लगवाया है.

प्रधानमंत्री मोदी के आंध्र दौरे को लेकर बात करते हुए नायडू ने इससे पहले कहा था कि रविवार का दिन राज्य के लिए ‘काला दिन’ होगा. इसके साथ ही उन्होंने टीडीपी के अपने सदस्यों और कार्यकर्ताओं से शनिवार को कहा कि वे प्रधानमंत्री नरेंद्र मोदी की रविवार को प्रस्तावित राज्य की यात्रा के दौरान विरोध प्रदर्शन करे

टीडीपी प्रमुख नायडू ने टेलीकॉन्फ्रेंस कॉल के दौरान कार्यकर्ताओं और पार्टी सदस्यों से कहा कि राज्य के साथ केंद्र के ‘विश्वासघात’ के खिलाफ विरोध प्रदर्शन इस पैमाने पर किया जाना चाहिए कि पूरे देश का ध्यान इस ओर आकर्षित हो.
पीएम मोदी रविवार को गुंटूर में एक रैली को संबोधित करने वाले हैं. पीएम मोदी रविवार सुबह गन्नावरम एयरपोर्ट पहुंचेंगे, जहां एयरपोर्ट के ठीक सामने एक विशाल होर्डिंग लगाई गई है. बीजेपी ने इस बाबत पुलिस में शिकायत कराते हुए होर्डिंग लगाने के खिलाफ कार्रवाई की मांग की है.

इससे पहले श्रीकाकुलम जिले के पालास में आयोजित बीजेपी अध्यक्ष अमित शाह के रोड शो में काफी कम भीड़ जुटी थी. इससे सबक लेते हुए राज्य का पार्टी नेतृत्व पीएम मोदी के इस दौरे को सफल बनाने की भरसक कोशिश कर रहा है. बीजेपी सांसद जीवीएल नरसिन्हा राव ने कहा कि प्रधानमंत्री के कार्यक्रम को सफल बनाने के लिए हम सभी प्रतिबद्ध हैं और इसके लिए जरूरी व्यवस्था कर रहे हैं.

उधर बीजेपी के खिलाफ टीडीपी प्रमुख सोमवार को नई दिल्ली में दिन भर का विरोध प्रदर्शन आयोजित करेंगे. उन्होंने कहा कि महात्मा गांधी द्वारा दिखाए गए तरीके से विरोध-प्रदर्शन आयोजित किए जाने चाहिए. नायडू ने आरोप लगाया कि मोदी 2014 में राज्य के विभाजन के बाद की बर्बादी देखने के लिए राज्य आ रहे हैं. इससे पहले नायडू ने मोदी के दौरे पर तीखी टिप्पणी करते हुए कहा था, “क्या वह यहां यह देखने आ रहे हैं कि लोग अभी भी जीवित हैं या नहीं?’ नायडू ने कहा कि राज्य सरकार को अस्थिर करने के लिए साजिश रची गई.

www.worldmediatimes.com पर जाकर सबक्राईब  करे हमसे जुड़ेने व विज्ञापन के लिए संपर्क करे अन्य न्यूज़ अपडेट हासिल करने के लिए आप हमें इस न 9452888808 पर कॉल और whatsapp भी कर सकते है आप  youtube  पर भी सबक्राईब करे   Facebook Page और  Twitter   Instagram  पर फॉलो करे! हर पल अपडेट रहने के लिए डाउनलोड करें अपने मोबाइल पर  World Media Times की Android App