बड़ा बयान:शराब नहीं बीयर पीती थीं श्रीदेवी,उनकी हत्या हुईः सुब्रमण्यम स्वामी

0
139

दिल्ली: श्रीदेवी की मौत पर बीजेपी सांसद सुब्रमण्यम स्वामी ने बड़ा बयान दिया है. सुब्रमण्यम स्वामी ने श्रीदेवी की हत्या किए जाने की आशंका जताई है. स्वामी ने दावा किया है कि होटल के सीसीटीवी की जांच अबतक नहीं हो पाई है और श्रीदेवी कभी शराब नहीं पीती थीं, इसलिए मुझे लगता है कि ये हत्या है.सुब्रमण्यम स्वामी ने कहा, ‘’सिनेमा अभिनेत्रियों और दाऊद से जो रिश्ते है, वह नाजायज रिश्ते हैं. हमें उस पर थोड़ा ध्यान देना पड़ेगा.’’ उन्होंने आगे कहा, ‘’इस मामले में प्रॉसिक्यूशन की रिपोर्ट का इंतजार करना चाहिए, क्योंकि मीडिया में आ रही खबरें लगातार बदल रही हैं. वह कभी भी शराब नहीं पीती थीं तो फिर वह उनके शरीर में कैसे पाया गया? सीसीटीवी का क्या हुआ?’’ स्वामी ने कहा, ‘’मीडिया में अचानक से डॉक्टर सामने आए और उन्होंने कहना शुरू कर दिया कि उनकी मौत हार्ट अटैक से हुई?’’

फॉरेंसिक विभाग में रखा गया शव

दुबई पुलिस के सूत्रों ने खलीज टाइम्स को जानकारी दी है कि एक्ट्रेस का पार्थिव शरीर करीब 44 घंटे से दुबई के जनरल डिपार्टमेंट ऑफ फॉरेंसिक एविडेंस में रखा गया है. जानकारी के मुताबिक, रविवार सुबह से एक्ट्रेस की मौत की जांच जारी है. रविवार सुबह 2.30 बजे से उनका पार्थिव शरीर दुबई के जनरल डिपार्टमेंट ऑफ फॉरेंसिक एविडेंस में है. 24 फरवरी की रात को एक्ट्रेस का निधन हुआ था. सोमवार को आई पोस्टमार्टम रिपोर्ट में मुताबिक, श्रीदेवी की मौत की वजह एक्सीडेंटल है. होटल के बाथटब में डूबने से उनकी मौत हुई. उनके शरीर में अल्कोहल की मात्रा थी.

नहीं हुआ लेपन

ताजा जानकारी के मुताबिक श्रीदेवी के पार्थिव शरीर पर लेपन शुरू नहीं हुआ है. दरअसल, दुबई सरकारी वकील की इजाजत नहीं मिली है. लेपन में दो से तीन घंटे का वक्त लगता है.

अभी दुबई में कागजी कार्रवाई के कारण देरी हो रही है. अभी भी श्रीदेवी की मौत की जांच जारी ही है. पुलिस और डॉक्टर्स के बाद अब ये मामला दुबई पब्लिक प्रॉसिक्यूशन (सरकारी वकील) के हाथ में है. उन्हीं की जांच पूरी होने के बाद पार्थिव शरीर को भारत लाने की मंजूरी दी जाएगी.

बोनी कपूर से हुई पूछताछ!

रिपोर्ट के मुताबिक, जिस दिन श्रीदेवी की मौत हुई थी उसी दिन पुलिस और बोनी कपूर के बीच बातचीत हुई थी. हालांकि कुछ मीडिया रिपोर्ट्स में कहा जा रहा है कि सोमवार को पुलिस ने बोनी कपूर से पूछताछ की. लेकिन दुबई पुलिस के सूत्रों ने डायरेक्टर से पूछताछ की खबरों को गलत और निराधार बताया है.

2-3 दिन का समय लगना संभव- नवदीप सूरी

सोमवार को यूएई में भारतीय राजदूत नवदीप सूरी ने बताया कि ऐसे मामलों में कितना समय लगता है. उन्होंने ट्वीट कर कहा कि ऐसे मामलों में प्रक्रिया पूरी करने में 2-3 दिन का समय लगता है. हम लोकल अधिकारियों के साथ काम कर रहे हैं ताकि पार्थिव शरीर को जल्द भारत भेजा जा सके. हम एक्सपर्ट पर मौत का कारण निश्चय करने के लिए छोड़ देते हैं.

www.worldmediatimes.com से जुड़ेने व विज्ञापन के लिए संपर्क करे अन्य न्यूज़ अपडेट हासिल करने के लिए आप हमें इस न 9452888808 पर whatsapp कर सकते है आप  youtube पर भी सबक्रईब करे Facebook और Twitter पर फॉलो करे! हर पल अपडेट रहने के लिए डाउनलोड करें अपने मोबाइल पर World Media Times की Android App